प्रमुख समाचार
आगे बढ़ी पद्मावती की रिलीज डेट,प्रमोशन भी रोका
नई दिल्ली,22/नवम्बर/2017(ITNN)>>> फिल्म पद्मावती को लेकर केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने स्पष्ट कहा कि पहले केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) या सेंसर बोर्ड को फैसला कर लेने देना चाहिए। इस बीच,पद्मावती की रिलीज डेट को आगे खिसका दिया गया है। इसके साथ ही फिल्म का प्रमोशन भी रोक दिया गया है। उधर उप्र के सीएम योगी आदित्यनाथ ने धमकी देने व प्रदर्शन करने वालों के साथ ही फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली को विवाद का जिम्मेदार बताया है।

फिल्म पर बयानों के तीर

* सीबीएफसी इसी काम के लिए बनी है। उसे अपना काम करने दीजिए। -राज्यवर्धन राठौड़,सूचना प्रसारण राज्यमंत्री

* कुछ ऐतिहासिक तथ्य हमारी सोच के मुताबिक नहीं हो सकते। विरोध करने वाले पहले फिल्म देखें। कुछ आपत्तिजनक दिखे तो उसे हटाने की मांग करें। -बीरेंद्र सिंह,केंद्रीय मंत्री

* जितने गलत प्रदर्शन करने वाले व धमकी देने वाले हैं,उतने ही संजय लीला भंसाली भी हैं। वह जनभावनाओं से खिलवाड़ करने के आदी बन चुके हैं। -योगी आदित्यनाथ,सीएम उप्र

* एक फिल्म में डांस करने वाली नचनिया से डर गए। बड़ी-बड़ी पगड़ियां लगाकर फिल्मों का विरोध कर रहे हैं। - आजम खान,पूर्व मंत्री उप्र

* हिंदुस्तान के हर सिनेमाहॉल में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। इस देश का युवा और क्षत्रिय समाज एक-एक सिनेमा हॉल को जलाने की ताकत रखता है। - सूरज मल अमू, भाजपा नेता हरियाणा

* इनाम पर जीएसटी वसूला? देश ये जानना चाहता है कि इनाम के 10 करोड़ रुपए पर भी जीएसटी लगा है क्या? - ट्विंकल खन्ना

हिम्मत हो तो भंसाली हरियाणा आकर दिखाएं - संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण के सिर काटने पर पांच करोड़ रुपए के इनाम का समर्थन करने और जरूरत पड़ने पर 10 करोड़ इकट्ठा करने का बयान देने वाले हरियाणा के भाजपा नेता सूरजपाल अमू अपनी बात पर अड़े हुए हैं।

मंगलवार को उन्होंने चुनौती दी कि हिम्मत है तो भंसाली हरियाणा आकर दिखाएं। सूरजपाल ने पूर्व मंत्री आजम खान और गीतकार जावेद अख्तर पर भी तल्ख टिप्पणियां कीं और आजम खान का इलाज उन्होंने पीजीआई चंडीगढ़ में कराने की बात कही।