प्रमुख समाचार
हनीप्रीत तो छोटी मछली,राम रहीम का असली राजदार अब भी फरार
नई दिल्ली,07/अक्टूबर/2017(ITNN)>>> हनीप्रीत को गिरफ्तार करने के बाद राहत की सांस ले रही हरियाणा पुलिस की खुशी तब काफूर हो गई,जब खुलासा हुआ कि राम रहीम की असली राजदार यह लड़की नहीं,कोई और है। हनीप्रीत तो डेरा सच्चा सौदा की एक छोटी मछली है,वहां चलने वाली सभी गैरकानूनी गतिविधियों का मास्टरमाइंड आदित्य इन्सां है,जो अब भी फरार है। आदित्य डेरा समर्थकों के बीच जाना-पहचाना चेहरा है

क्योंकि वह राम रहीम का प्रवक्ता रहा है और कई टीवी चैनलों पर चर्चाओं में हिस्सा ले चुका है। आदित्य बोलने में काफी होशियार है। वह न केवल मीडिया हैंडल करता था,बल्कि डेरा के संबंध में राजनेताओं और अन्य संगठनों से बात करता था। डेरा की विभिन्न गतिविधियों के संबंध में आदित्य ही पुलिस और प्रशासन के साथ मीटिंग्स करता था। आदित्य के पास कितने अधिकार थे,इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि राम रहीम के नाम से लेटर भी वही लिखता था। 

2007 में राम रहीम ने गुरु गोबिंद सिंह का रूप धारण किया था, तब भारी विवाद हुआ था। तब माफीनामा आदित्य ने ही लिखा था। डेरों को हाईटेक बनाने के पीछे उसी का दिमाग है। राम रहीम के खिलाफ हत्या और रेप के केस दर्ज हुए तो बड़ी संख्या में डेरा समर्थकों ने इस कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन किए थे। इसके पीछे भी आदित्य का रणनीति थी। कहा जा रहा है कि राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद हरियाणा में जो हिंसा फैली,उसके पीछे भी आदित्य का हाथ था।

राम रहीम को हीरो और हनीप्रीत को हीरोइन बनाया
आदित्य के आइडिया पर काम करते हुए ही राम रहीम ने फिल्म बनाने का फैसला किया था। उसी ही पहल पर हनीप्रीत को हीरोइन का रोल दिया गया था। राम रहीम ने आदित्य को आई बैंक का डायरेक्टर बनाया था। अब पुलिस ने आदित्य की तलाश शुरू कर दी है। पंचकूला के पुलिस आयुक्त एएस चालवा के मुताबिक, आदित्य और डेरे से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में छापा मारी जारी है।