प्रमुख समाचार
भारत-नेपाल सीमा पर बवाल,नेपाल में भारतीयों पर हमले
खीरी,11/मार्च/2017(ITNN)>>>>>>> इंडो-नेपाल सीमा पर दो दिन से जारी बवाल के बीच मित्र मुल्क में भारतीय की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। नेपाली भीड़ देखते ही भारतीयों पर हमले कर रही है। उनकी दुकानें और वाहन जला रही है। नेपाल में एक भारतीय युवक की हत्या की खबर से सुरक्षा एजेंसियों में खलबली मची है। गुरुवार को दूसरे दिन भी नेपाली उग्र भीड़ लखीमपुर खीरी के बसही बॉर्डर पोस्ट पर जमकर उपद्रव किया। सुबह होते ही सीमा पर जमा हुई हजारों की भीड़ नोमेंस लेंड पर आ पहुंची और अपने झंडे लगा दिए। इतना ही नहीं,विवादित जगह पर कब्जा भी कर लिया। भीड़ को खदेड़ने के लिए सीमा पर तैनात भारतीय सुरक्षाबलों को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। उग्र भीड़ ने लखीमपुर खीरी के पुलिस और प्रशासिनक अधिकारियों को निशाना बनाकर पत्थरबाजी की। भीड़ के बीच गोलियां भी चलाई गईं।

इस बीच नेपाल से भागकर लखीमपुर की सीमा में पहुंचे पीलीभीत के एक युवक ने बताया कि उसके साथ काम करने वाले बिहार के एक युवक की हमलावर भीड़ ने नेपाल के अंदर पीट-पीटकर हत्या कर दी। वह किसी तरह जान बचाकर भागा। वहीं,भारतीय सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग नेपाल के युवक की मौत के आरोप को लेकर नेपाल में भारत विरोधी प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। ज्यादा चिंता की बात ये है कि बॉर्डर पर हिंसक झड़पों के चलते नेपाल में रह रहे भारतीयों की सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है। नेपाल के पुनर्वास इलाके में भारतीयों की दुकानें जलाई गई हैं। धनगढ़ी में कुछ जगह भारतीयों के वाहन फूंक दिए गए हैं। इससे नेपाल में रह रहे भारतीय दहशत में हैं। आरोप-प्रत्यारोप के बीच फिलहाल सुरक्षा बलों ने भारत-नेपाल सीमा को सील कर रखा है। नागरिकों और वाहनों की आवाजाही पूरी तरह बंद है। बॉर्डर पर वाहनों की कतारें लगी हैं।

पथराव में भारतीय सुरक्षाबल हो रहे लहूलुहान
नेपाली उग्र भीड़ की ओर से की जा रही भारी पत्थरबाजी से एसएसबी व पुलिस के कई और जवान लहूलुहान हो गए हैं। अब तक बीस से अधिक जवानों के जख्मी होने की खबर है। इधर,हालात का जायजा लेने पहुंचे एसएसबी के अफसरों ने सुरक्षाबलों को फायरिंग नहीं करने के निर्देश दिए हैं। खीरी के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर डेरा जमाए हैं।

समझौते की बात अटकी,अफसर परेशान
एक दिन पहले भारत के लखीमपुर खीरी और नेपाल के कंचनपुर-कैलाली के अफसरों ने आपस में बात पर विवादित जमीन पर जांच पूरी होने तक यथास्थिति कायम रखने पर हमारी भरी थी। हालांकि दूसरे ही समझौते और जांच की बात टूट गई। शुक्रवार को सुबह होते ही सीमा पर हजारों की संख्या में नेपाली नागरिक जमा हो गए और फिर भारतीय सुरक्षाबलों पर पथराव,फायरिंग शुरू कर दी। सुबह से शाम तक पत्थरबाजी का दौर जारी रहा। नेपाल प्रहरी दल अपनी ओर की उग्र भीड़ को काबू रखने में नाकाम साबित हो रहे हैं। इससे भारतीय अफसर चिंतित हैं।

भारत ने नेपाल से मांगी पोस्टमार्टम रिपोर्ट
भारत ने नेपाली युवक गोविंद गौतम की मौत पर अफसोस जताते हुए उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगी है। नेपाल सरकार ने भी भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मामले की जांच की मांग की है।