प्रमुख समाचार
किम जोंग उन के खात्मे के लिए मई में हुई थी कोशिश,लेकिन बच निकला तानाशाह
वॉशिंगटन,10/अक्टूबर/2017(ITNN)>>> उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की हरकतों से सभी परेशान है। खासतौर पर अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच जुबानी जंग बढ़ती जा रही है। इस बीच,उत्तर कोरिया ने आरोप लगाया है कि अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए ने किम जोंग उन की हत्या की साजिश रची थी। कोरिया सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) की रिपोर्ट के मुताबिक,दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसी के साथ मिलकर अमेरिका ने यह साजिश रची है।

दावा है कि मई में उत्तर कोरिया के सबसे बड़े शासक को मारने का यह नाकाम प्रयास हुआ है। तब बायोकैमिकल पॉयजन यानी जहर का इस्तेमाल करने की योजना थी। इसी बहाने उत्तर कोरिया ने एक बार फिर अमेरिका पर निशाना साधा है। केसीएनए की रिपोर्ट में लिखा गया है कि किम जोंग उन की हत्या की कोशिश इस बात का सबूत है कि अमेरिका दुनिया में आतंकवाद फैला रहा है। 

रिपोर्ट में अमेरिका को गिरगिट की तरह रंग बदलने वाला करार दिया गया है। इसी रवैये के चलते अमेरिका दूसरे देशों में अपनी हरकतों का बचाव करता है। अमेरिका पर इराक,लीबिया और अफगानिस्तान के घरेलू मामलों में दखल देने का आरोप भी लगाया गया है। अमेरिका की दखल के कारण ही ये देश गृहयुद्ध झेल रहे हैं।

यूं रची गई थी साजिश
रिपोर्ट के मुताबिक,किम जोंग उन की हत्या के लिए सीआईए और दक्षिण कोरियाई खुफिया एजेंसी के कुछ लोगों ने उत्तर कोरिया में घुसपैठ की थी। उनकी साजिश उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर पर बायोलॉजिकल और कैमिकल अटैक करना था,जिसे नाकाम कर दिया गया। उत्तर कोरिया इसे अपनी बड़ी कामयाबी बता रहा है।