प्रमुख समाचार
1 फरवरी को पेश होगा आम बजट
नई दिल्ली,05/जनवरी/2018(ITNN)>>> साल 2018-19 का बजट सत्र 29 जनवरी 2018 से शुरु होगा और 9 फरवरी तक चलेगा। बजट का दूसरा भाग 5 मार्च से 6 अप्रैल तक चलेगा। आम बजट 1 फरवरी को पेश किया जाएगा। संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने आज इसकी जानकारी दी है। माल एवं सेवा कर (जी.एस.टी.) लागू होने के बाद यह देश का पहला बजट होगा।

18 जनवरी को राज्य वित्त मंत्रियों के साथ बजट-पूर्व चर्चा
कृषि,सामाजिक और आर्थिक क्षेत्रों के प्रतिनिधियों के साथ विचार विमर्श करने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली अब राज्यों के वित्त मंत्रियों के साथ अगले वित्त वर्ष 2018-19 के आम बजट के संबंध में चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि इस बैठक में सामाजिक क्षेत्र की योजनाओं के लिए आवंटन और राज्यों के समक्ष चुनौतियों पर चर्चा की जा सकती है। सूत्रों ने कहा कि वित्त मंत्री 18 जनवरी को राज्यों के वित्त मंत्रियों के साथ बजट-पूर्व चर्चा करेंगे। यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब जीएसटी को लागू किए छह महीने हो चुके हैं। माना जा रहा है कि इसमें राज्यों के जीएसटी से अब तक के अनुभव के साथ-साथ राज्यों के समक्ष चुनौतियों पर भी चर्चा हो सकती है।

जेटली ने किया ब्रिटिशकालीन परंपरा को खत्म
एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि संसद का बजट सत्र राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के अभिभाषण से शुरू होगा। बजट को फरवरी के अंत में प्रस्तुत किए जाने की ब्रिटिशकालीन परंपरा को खत्म करते हुए इस साल जेटली ने पहली बार आम बजट को एक फरवरी को पेश किया था। इसका तर्क यह है कि एक अप्रैल से नए वित्त वर्ष की शुरुआत से पहले सभी बजट प्रस्तावों को मंजूरी मिल जाए ताकि समय पर धन की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके।