प्रदेश विशेष
सीएम योगी का जलवा कायम,भाजपा की बंपर जीत
लखनऊ,01/दिसंबर/2017(ITNN)>>> उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद अब नगर निकाय चुनावों में भी भगवा लहर नजर आई है। राज्य में 16 मेयर सीटों में से भाजपा ने लखनऊ,मथुरा समेत 14 सीटों पर बढ़त बना रखी है वहीं बसपा ने बड़ी चुनौती देते हुए मेरठ और अलीगढ़ सीट पर कब्जा किया है। गोरखपुर में सीएम योगी के वार्ड में ही भाजपा उम्मीदवार की जमानत जब्त हुई है। दूसरी तरफ कांग्रेस के गढ़ अमेठी में कांग्रेस को झटका लगा है और यहां से भाजपा ने जीत दर्ज की है। फिलहाल मतगणना अब अंतिम चरण में चल रही है।

अब तक आए नतीजों के अनुसार भाजपा ने 16 में से 14 मेयर की सीटों पर जीत दर्ज की है वहीं बसपा को दो पर सफलता मिली है। मथुरा, फिरोजाबाद और अयोध्या में जहां भाजपा उम्मीदवारों ने मेयर की सीट जीत ली है वहीं अलीगढ़ में बड़ा उलटफेर हुआ है और यहां बसपा उम्मीदवार फुरकान जीत गए हैं। जबकि मेरठ में बसपा उम्मीदवार सुनीता वर्मा ने जीत दर्ज कर ली है। मथुरा में भारतीय जनता पार्टी के मुकेश आर्य बंधु तथा अयोध्या में भाजपा के ऋषिकेश उपाध्याय ने बाजी मारी है।

मेयर पदों पर भाजपा की जीत

मतगणना के दौरान भाजपा ने मेयर पदों पर बढ़त बना रखी है।

आगरा नगर निगम पर भाजपा का कब्जा। मेयर पद पर नवीन जैन करीब 72 हजार मतों से जीते।

लखनऊ भाजपा की मेयर उम्मीदवार संयुक्ता भाटिया जीती

मथुरा में भाजपा के मेयर प्रत्याशी मुकेश आर्य जीते।

फिरोजाबाद में भाजपा प्रत्याशी की जीत

मेरठ में बसपा प्रत्याशी सुनीता वर्मा जीतीं।

गोरखपुर महापौर पद के भाजपा प्रत्‍याशी सीताराम जायसवाल ने रिकार्ड जीत के साथ कब्जा जमाया।

गाजियाबाद में भाजपा प्रत्याशी आशा शर्मा की जीत तय।
मुरादाबाद में भाजपा के मेयर प्रत्याशी विनोद अग्रवाल जीते।

बरेली में भाजपा के उमेश गुप्ता जीते।

कानपुर में भाजपा की मेयर प्रत्याशी प्रमिला पांडेय विजयी।

झांसी से भाजपा उम्मीदवार रामतीरथ जीते।

सहारनपुर से भाजपा उम्मीदवार संजीव वालिया जीते।

नगर निगम महापौर विजेताओं की लिस्ट-

नगर पालिकाओं में भाजपा आगे
नगर पालिकाओं के मामले में भी भजापा सबसे आगे है। 198 सीटों में से अब तक आए 198 सीटों के रुझानों में भाजपा 101 पर, सपा 36 पर और बसपा 35 पर आगे है। कांग्रेस महज 3 पर आगे है

राजनीतिक दलों के अनुसार निर्वाचित प्रत्याशियों का विवरण-

तैयारी पूरी,सुरक्षा के इंतजाम
राज्य निर्वाचन आयोग ने मतगणना की सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। प्रदेश के 334 स्थानों पर एक साथ मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू हो गई है। परिणाम जल्दी आएं इसलिए 11,200 टेबल लगाई गई हैं। वोटों की गिनती के लिए 56 हजार कर्मी लगाए गए हैं।

नगर निगमों में ईवीएम से चुनाव हुए हैं इसलिए इनके परिणाम दोपहर 12 बजे तक आने की उम्मीद है। छोटी नगर पंचायतों के परिणाम सुबह 10 बजे से ही आने शुरू हो जाएंगे। शाम चार से पांच बजे तक सभी निकायों के परिणाम घोषित हो जाएंगे। रुझानों और नतीजों को देखकर लगता है कि भाजपा इस चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करने जा रही है वहीं सपा और कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो रहा है। बसपा ने हालांकि कई जगहों पर भाजपा को मेयर पदों के लिए टक्कर दी लेकिन फिर भी भाजपा भारी पड़ती नजर आई।

7 घंटे में पूरी हो जाएगी मतगणना
मतगणना 7 घंटे में पूरी करने की तैयारी है। मेयर व अध्यक्ष पद के लिए 6 हजार मतगणना टेबल लगाई गईं हैं। पार्षद व सदस्य पद के लिए 5,200 टेबल लगाई गईं हैं। अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने बताया कि नगर निगम के परिणाम 12 बजे से 1 बजे के बीच आ जाएंगे। बाकी परिणाम भी शाम 4 बजे तक आ जाएंगे। पहले मेयर फिर सभासद की काउंटिंग

मतगणना के दौरान किसी भी अव्यवस्था से निपटने के लिए तमाम तैयारी कर ली गई है। इसके तहत प्र​शिक्षित कर्मचारियों की ड्यूटी का अंतिम रैंडमाइजेशन मतगणना से तीन घंटे पहले होगा। इसी के बाद कर्मी जान सकें कि उनकी ​ड्यूटी किस वार्ड की टेबल पर है। मतगणना के लिए मेयर और पार्षद की ईवीएम एक साथ ही खोली जाएंगीं। मतों की गणना पहले मेयर की ईवीएम की होगी। इसी तरह नगर पंचायतों में भी पहले चेयरमैन और उसके बाद वार्ड सभासद के बैलेट पेपर की गणना होगी।

जांच के बाद ही प्रवेश
मतगणना के लिए केंद्रों पर पहुंचने वाले प्रत्याशियों को भी उनका परिचय पत्र देखने के बाद ही प्रवेश दिया गया।