प्रदेश विशेष
बीएड छात्रा की सुसाइड पर शकुंतला मिश्र यूनिवर्सिटी में बवाल, मुआवजे की मांग
लखनऊ,20/April/2018/ITNN>>> लखनऊ के शकुन्तला मिश्र यूनिवर्सिटी में गुरुवार शाम बीएड की छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी. मृतक छात्रा का नाम पारुल हैं. छात्रा के आत्महत्या की खबर सुनते ही गुस्साए छात्रों ने जमकर हंगामा किया. आरोप हैं कि फांसी लगाने के बाद भी जब उसे नीचे उतारा तो पारुल की सांसे चल रही थी. मगर यूनिवर्सिटी प्रशासन की लापरवाही से उसकी जान नहीं बच सकी. हालांकि आत्महत्या के पीछे की वजहों का अब तक खुलासा नही हो सका हैं.

मामले में रात भर छात्रों का विरोध प्रदर्शन चलता रहा. शुक्रवार सुबह छात्रों ने यूनिवर्सिटी की गेट पर ताला जड़ दिया. छात्र अब रोड जाम करने की तैयारी में हैं. छात्रों की मांग है कि मृतक छात्रा के परिजनों को मुआवजा दिया जाए. साथ ही यूनिवर्सिटी के लापरवाह अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाए.

बता दें मोहान रोड स्थित डॉ. शकुंतला मिश्र राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय के हॉस्टल में बीएड की छात्रा पारुल (23) फंदे पर लटकी मिली. घटना की जानकारी पर प्रबंधन के लोग छात्रा को फंदे से उतारकर एरा हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहा डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

मौत के बाद नाराज सैकड़ों छात्र-छात्रओं ने पारुल की हत्या किए जाने का आरोप लगाकर कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की. छात्रों का आरोप है कि पारुल को हॉस्पिटल ले जाने में देरी की गई.


मृतक छात्रा देवरिया जिले के जगहटा भाटपार रानी गाव निवासी कमला पति सिंह की बेटी थी. वह कॉलेज के ग‌र्ल्स हॉस्टल के द्वितीय तल पर कमरा नंबर 219 में रहती थी. आत्महत्या के बाद बवाल की सूचना पर पारा इंस्पेक्टर अखिलेश चंद्र पाडेय, सीओ आलमबाग संजीव सिन्हा समेत भारी पुलिस बल और पीएसी मौके पर पहुंची. पुलिस ने हंगामा कर रहे छात्र-छात्रओं को समझाने का प्रयास किया पर कोई सफलता नहीं मिली. हंगामा शुक्रवार सुबह भी जारी है.