प्रदेश विशेष
रहस्य बन गई किले से लटकी चेतन की लाश
जयपुर,25/नवम्बर/2017(ITNN)>>> जयपुर के नाहरगढ़ किले की प्राचीर से लटके चेतन सैनी के शव का मामला रहस्यमयी बनता जा रहा है। पुलिस अभी भी इसे आत्महत्या मान रही है और इसका आधार चेतन की जेब से मिली उधार की पर्ची को बताया जा रहा है, लेकिन पत्थरों पर लिखी विवादास्पद बातें अभी भी यह सवाल खड़ा कर रही है कि आखिर आत्महत्या से पहले चेतन ने यह बातें क्यों लिखी। पुलिस भी इस सवाल का जवाब ढूंढने में लगी है। पुलिस को चेतन की जेब से कुछ हिसाब-किताब की पर्चियां मिली है जिनसे पता चलता है। 

कि उस पर कोई कर्ज बकाया था और पुलिस इसी आधार पर इसे आत्महत्या का मामला मान रही है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में भी इसे आत्महत्या का मामला बताया गया है,लेकिन पत्थरों पर लिखी विवादास्पद बातें पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई हैं। पुलिस को हैंडराइटिंग के बारे में एफएसएल की रिपोर्ट का इंतजार है। अखिर यह सब क्यों लिखा गया- पुलिस अधिकारी आपसी बातचीत में मानते हैं कि आत्महत्या करने से पहले फिल्म से जुडी बातें लिखना गले नहीं उतर रहा है और यही कारण है कि हत्या के एंगल को भी पूरी गहनता से जांचा जा रहा हैं। 

इसके लिए कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जा रही है,लेकिन मामला काफी संवेदनशील है इसलिए जब तक पूरी जांच नहीं हो जाती,तब तक पुलिस अधिकृत रूप से कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। चेतन के परिजन भी इसे अात्महत्या मानने को तैयार नहीं है। उसके मामा बाबूलाल सैनी का कहना है कि पांच बजे उसने पत्नी को नौ बजे तक लौटने के लिए कहा था। उसने कुछ सेल्फी भी पोस्ट की थी,जिससे लग ही नहीं रहा कि उसके चेहरे पर कोई तनाव है। उनका कहना है कि यह साफ तौर पर हत्या का मामला है और पुलिस को गहनता से जांच करनी चाहिए।