प्रदेश विशेष
बांदीपुरा में शहीद हुए कमांडो मिलिंद कुमार और नीलेश नयन को दी गयी श्रद्धांजलि
बांदीपुरा,12/अक्टूबर/2017(ITNN)>>> जम्मू कश्मीर के बांदीपुरा में सेना के ऑपरेशन में एयरफोर्स के शहीद जवानों चंडीगढ़ में श्रद्धांजलि दी गयी. कल वायुसेना के गरुड़ कमांडो मिलिंद किशोर और नीलेश कुमार आतंकियों से लड़ते हुए शहरीद हो गए थे. 33 साल के मिलिंद किशोर महाराष्ट्र के नासिक के रहने वाले थे,वे वायुसेना में सार्जेंट के पद पर तैनात थे. वहीं 31 साल के नीलेश कुमार नयन बिहार के भागलपुर के रहने वाले थे और वो कारपोरल के पद पर तैनात थे. मिलिंद और नीलेश वायुसेना के कमांडो दस्ता गरुड़ में शामिल थे.

शहीद मिलिंद और नीलेश सेना के साथ ग्राउंड ट्रेनिंग पर थे
गरुड़ कमांडो भारतीय वायुसेना की विशेष इकाई है,जिसमें 1,000 से ज्यादा कमांडो हैं. गरुड़ कमांडो को नौसेना के मार्कोस और सेना के पैरा कमांडो की तर्ज पर प्रशिक्षित किया जाता है. जम्मू कश्मीर के बांदीपुरा में मिलिंद और नीलेश सेना के साथ ग्राउंड ट्रेनिंग पर थे तभी आतंकियों से मुठभेड़ में दोनों शहीद हो गए.

कल हुआ था एनकाउंटर दो आतंकियों को किया था ढेर
सुरक्षा बलों को जानकारी मिली थी कि बांदीपुरा के हाजिन इलाके में आतंकी छिपे हुए हैं. सेना की 13 राष्ट्रीय राइफल्स, पैरा कमांडोज और पुलिस की टीम ने आतंकियों की घेराबंदी की तो आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. इस फायरिंग में सुरक्षा बलों ने छिपे हुए दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया. इस एनकाउंटर में सेना के चार जवान जख्मी भी हुए हैं.

लश्कर से जुड़े थे दोनों आतंकी
मारे गए दोनों आतंकी लश्कर ए तैयबा से जुड़े थे. एक आतंकी अली उर्फ अबु माज पाकिस्तान का रहने वाला था. दूसरा आतंकी नसरुल्ला मीर जम्मू कश्मीर का ही रहने वाला था. आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए हैं. इसमें ए के सैंतालीस राइफल, ग्रेनड , पिस्टलऔर गोलियां शामिल हैं

इस साल सुरक्षाबलों ने मारे 169 आतंकी
जम्मू कश्मीर में इस साल अब तक सुरक्षाबलों ने 169 आतंकियों को मार गिराया है. वहीं आतंकी हमलों और पाकिस्तान की फाय़रिंग में 61 जवान शहीद हो चुके हैं. पाकिस्तान की तरफ से इस साल 600 से ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन हुआ है. जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों ने आतंकियों के सफाए का ऑपरेशन छेड़ा हुआ है. हाल के दिनों में कई खतरनाक आतंकियों को ढेर किया जा चुका है.