प्रदेश विशेष
रोक के बावजूद दिल्ली में रैली पर अड़े मेवाणी समर्थक
नई दिल्ली,09/जनवरी/2018(ITNN)>>> दलित नेता जिग्‍नेश मेवाणी को दिल्‍ली में रैली करने की मंजूरी नही मिली है। जिग्‍नेश ने आज मंगलवार रैली की इजाजत दिल्‍ली पुलिस से मांगी थी लेकिन उनके अनुरोध को मंजूर नहीं किया गया। रैली की इजाजत नहीं मिलने पर भी जिग्नेश मेवाणी और उनके समर्थक रैली करने पर अड़ गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिमी उत्तरप्रदेश की भीम आर्मी भी जंतर-मंतर पर रैली में शामिल हो सकती है। 

भीम आर्मी के कई सदस्य चंद्रशेखर आज़ाद के समर्थन में वहां पहुंच रहे हैं। नई दिल्ली के पुलिस उपायुक्त ने ट्वीट किया,संसद मार्ग पर प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन को एनजीटी के आदेश के मद्देनजर अबतक मंजूरी नहीं दी गई है। आयोजकों को वैकल्पिक जगह पर जाने की सलाह दी गई है जो वे स्वीकार करने को तैयार नहीं हैं। एनजीटी ने पिछले साल पांच अक्तूबर को अधिकारियों को जंतर-मंतर रोड पर धरना,प्रदर्शन,लोगों के जमा होने,भाषण देने और लाउडस्पीकरों के इस्तेमाल संबंधी गतिविधियां तत्काल रोकने का आदेश दिया था। 

आयोजकों में से एक और जेएनयू के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष मोहित कुमार पांडेय ने कहा कि इस कार्यक्रम को रोकने के लिए बहुत प्रयास किए जा रहे हैं और यहां तक कि कुछ मीडिया घराने गलत सूचना भी फैला रहे हैं कि रैली के लिए इजाजत नहीं दी गई है। पांडेय ने पीटीआई को बताया कि दो जनवरी को रैली की घोषणा किए जाने के बाद से,मेवाणी को एक देशद्रोही और शहरी नक्सली बताने वाले पोस्टरों पर बहुत सारा पैसा खर्च किया गया है। उन्होंने कहा कि रैली पूर्व निर्धारित समय पर ही होगी। मेवाणी से उनकी प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं किया जा सका। एक बयान में आयोजकों ने मंगलवार 12 बजे संसद मार्ग पर एकत्रित होने की अपील की है।