शहर विशेष
कमल हासन ने लॉन्च की ऐप,लोगों से जुड़ना है मकसद
चेन्नई,07/नवम्बर/2017(ITNN)>>> दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार कमल हासन ने आज यानी 7 नवंबर को अपने जन्मदिन के मौके पर मोबाइल ऐप लॉन्च किया। कमल हासन ने अपनी मोबाइल ऐप लॉन्च करते हुए कहा कि ये एक पब्लिक प्लेटफॉर्म है। मेरा मकसद इसके जरिये लोगों से जुड़ने का है। उन्होंने कहा कि मैं जल्द ही पूरे तमिलनाडु का दौरा करुंगा, पूरे प्रदेश में हमारे फैंस अच्छा काम कर रहे हैं। कई लोग सोच रहे थे कि मैं आज अपनी पार्टी का ऐलान करुंगा,लेकिन अभी मुझे बहुत काम करना है हम अभी स्थिति को समझ रहे हैं।

इससे पहले कमल हासन ने कहा कि वह राजनीति में आने को तैयार हैं और तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनने को भी तैयार हैं। उन्होंने मोबाइल एप को राजनीतिक यात्रा का पहला कदम करार दिया है। इसके जरिये वित्तीय लेनदेन को ट्रैक किया जा सकेगा। कमल हासन के राजनीति में आने की लंबे समय से चर्चा चल रही है। उनके द्वारा किसी स्थापित राजनीतिक पार्टी का दामन थामने की अटकलबाजी भी चली थी। उन्होंने खुद की पार्टी गठित करने का संकेत देकर इसे विराम दिया था। हासन रविवार को अपनी संस्था कमल हासन नरपानी इयाक्कम' की 39वीं वर्षगांठ के मौके पर केलांबकम पहुंचे थे।

उन्होंने कहा,यह पहला कदम है। मुझे पूरा विश्वास है कि आप (जनता) उसी तरह पूरी उदारता से चंदा देंगे जैसा अतीत में कल्याणकारी गतिविधियों के लिए दिया था। हर कोई कहा रहा है कि 7 नवंबर को मेरे जन्मदिन के मौके पर पार्टी का नाम उजागर किया जाएगा। लेकिन,मैं किसी बच्चे को जन्म देने से पहले उसका नाम कैसे रख सकता हूं। मैं फिलहाल किसी के आदेश का इंतजार नहीं कर रहा हूं। मैं फिल्मी भूमिका के लिए भी कम से कम तीन महीने की तैयारी करता हूं।'

पार्टियों के चंदे की व्यवस्था पर ली चुटकी
उन्होंने चुटकी भी ली कि वह चंदे का पैसा स्विस बैंक में जमा नहीं कराएंगे बल्कि वहां जमा धन को वापस लाएंगे। कमल हासन ने पिछले सप्ताह हिदू अतिवाद की आलोचना कर विवाद पैदा कर दिया था। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा,अपने मन की बात कहने पर मुझे राष्ट्र विरोधी करार दे दिया गया,लेकिन मैं ऐसा करता रहूंगा। हमारे लोकतंत्र में दमन कोई नई बात नहीं है। यदि जरूरत पड़ी तो मैं जेल जाने के लिए भी तैयार हूं। मैंने अतिवाद के बारे में बोला था, आतंकवाद के बारे में नहीं। दोनों में व्यापक अंतर है।